अन्य अन्य खबरे आवाज रिपोर्टर छत्तीसगढ़ रायपुर लाइफस्टाइल

CG के कलाकार ने लकड़ी से बनाया 1.5 से 3 इंच में हुबहू हार्मोनियम, गिटार, तबला और बहुत कुछ

हुनर किसी की मोहताज नहीं होती। आप का टैलेंट और आप की मेहनत से एक ना एक दिन सफलता जरूर मिलती है ऐसी एक ही दांस्ता राजधानी रायपुर के तात्यापारा निवासी प्रदीप सोनी की है जिन्होंने अपनी अनोखी कला से अपनी अलग पहचान बनाई है जो पेशे से एक सुनार भी है |

हमारे रिपोर्टर से खास बातचीत :

प्रदीप सोनी ने बताया की उन्हें बचपन से ही मूर्तिकला और संगीत उनके पसंदीदा शौक है, म्यूज़िक की दीवानगी इतनी बड़ी थी कि और उसने एक नई कला का जन्म किया|

लकड़ी के डेढ़ से तीन इंच तक के छोटे छोटे गिटार, तबला, ढोलक, हारमोनियम, बांसुरी जैसे म्यूज़िकल इस्टूमेंट बनाया

प्रदीप ने लकड़ी के डेढ़ इंक से लेकर तीन इंच तक छोटे छोटे म्यूज़िकल इस्टूमेंट बनाया जिसमे गिटार,तबला,ढोलक,हारमोनियम, बांसुरी और कई तरह के म्यूज़िकल इस्टूमेंट है |

अभी तक इन्होने 14 प्रकार के इस्टूमेंट बना चुके है जिसमे उन्हें ४ महीने का समय लगा | उन्होंने बताया की बांसुरी बनाने में पतले बांस की आवश्कता होती थी जो मार्केट में मिलना मुश्किल होता था इसलिए मैने घर में ही बांस के पौधे लगाए जो की तीन साल में लगकर तैयार हुआ फिर काम चालू हुआ |

प्रदीप सोनी ने अब तक लकड़ी के साथ साथ पीतल और तांबे में भी बहुत से सामान बनाना जानते है जो दिखने में हुबहू लगता है |

तीन इंच की ढोलक बनाने में दोनों साइड चमड़ा लगता है जिसे बनाने में अधिक समय लगता है.

Add Comment

Click here to post a comment

Fuel Price Raipur

रायपुर सराफा बाजार

मुद्रा बाजार अपडेट