fbpx
राजनीति के चाणक्य राजनीती

डीजल और पेट्रोल के दामों में भारी वृद्धि कर एनडीए ने जनादेश का किया घोर अपमान : कांग्रेस

रायपुर : छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता मोहम्मद असलम ने कहा है कि केंद्र सरकार ने बजट को गांव, गरीब और किसानों पर केंद्रित बताया है जिसमें कोई वास्तविकता नहीं है। बजट में फ्यूल के बेस प्राइस में एक्साइज ड्यूटी और सेस लगाने का उल्लेख किया गया है और वह लागू भी हो गया है। यह सीधा जनता पर प्रहार है। इससे महंगाई तो बढ़ेगी ही साथ में लोगों के समक्ष आर्थिक तंगी भी आएगी। पूरा बजट दुर्भाग्यजनक है और उसमें सबसे निराशाजनक पहलू पेट्रोलियम उत्पाद में दाम बढ़ाना साबित हो रहा है। जिसे जनहित में वापस लिया जाना चाहिए।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता मो. असलम ने कहा है कि पहले से बेलगाम महंगाई इस बजट में और बढ़ेगी। महंगाई भयावह रूप धारण कर चुकी है। जनता त्रस्त है। वस्तुओं के मूल्य को मुख्य रूप से प्रभावित करने वाला पेट्रोलियम पदार्थ के दाम दिनों-दिन बढ़ते जा रही है, जिससे अन्य वस्तुओं का दाम भी बढ़ते जा रहे है। आज के बजट की पेट्रोल डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी से घर का बजट बिगड़ेगा। भाजपा की योजना के अंतर्गत जो गैस, चूल्हे गरीब परिवार को बांटा गया था।

सिलेंडर के दाम मे इतना अधिक वृद्धि हो गया कि रिफिलिंग करवाने के लिए पैसे नहीं है। गैस सिलेंडर के दामों को कम करने का इस बजट में कोई उल्लेख नही .महिलाओं को दैनिक वस्तुओं का मनमाने मूल्य चुकाना पड़ रहा है। जिससे घर की आर्थिक स्थिति गिरती जा रही है। मंहगाई संकट से कोई समाधान इस बजट मे दिखाई नहीं दे रहा है। मोदी सरकार देश की विकास धीमी है.इसका असर नौकरियों पर भी पड़ा है.देश मे बेरोजगारों की संख्या रिकॉर्ड स्तर पर है।

प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता मोहम्मद असलम ने कहा है कि केंद्रीय बजट की भाजपा और एनडीए के लोग कितने ही प्रशंसा क्यों न कर लें, सरकार का यह बजट न सिर्फ निराशाजनक और हतोत्साहित करने वाला है, बल्कि आम लोगों की जेब पर डाका डालने वाला साबित हो रहा है। इस सरकार ने किसानों, महिलाओं, युवाओं के साथ-साथ आम वर्ग के लोगों के साथ ख़ासतौर पर डीजल और पेट्रोल के दामों में वृद्धि करके प्रचंड जनादेश का घोर अपमान कि

Add Comment

Click here to post a comment

विज्ञापन

रायपुर सराफा बाजार

मुद्रा बाजार अपडेट