fbpx

आवाज़ बिग ब्रेकिंग प्रमुख समाचार

दुती चंद 100मी. रेस के ग्लोबल इवेंट में गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी

भारतीय धाविका दूती चंद ने इटली के नेपल्स में 30वें वर्ल्ड समर यूनिवर्सिटी गेम्स की 100 मीटर स्पर्धा में भारत को उसका पहला स्वर्ण पदक दिलाकर इतिहास रच दिया है। भारत का इन खेलों के इस सत्र में न सिर्फ यह पहला स्वर्ण है, बल्कि वह वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स के इतिहास में 100 मीटर दौड़ में स्वर्ण जीतने वाली भी पहली भारतीय हैं। उनसे पहले कोई भी भारतीय इन खेलों की 100 मीटर दौड़ के फाइनल में भी क्वालीफाई नहीं कर सका है।

दो बार की एशियाई चैंपियन और राष्ट्रीय रिकार्डधारी दूती ने इस वर्ष मई में ही अपने समलैंगिक होने की बात को सार्वजनिक किया था, जिसके बाद वह सुर्खियों में रही थीं। भारतीय धाविका ने अपना पदक जीतने के बाद खुशी जताते हुए इसकी तस्वीर और मस्कट के फोटो को ट्वीटर पर साझा करते हुए लिखा कि तुम मुझे जितना पीछे खींचोगे मैं उतनी मजबूती से वापिस आऊंगी। दूती की इस कामयाबी पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी उन्हें बधाई दी है। राष्ट्रपति ने लिखा कि आपको बधाई दूती यूनिवर्सिटी गेम्स में 100 मीटर रेस में स्वर्ण जीतने पर। यह भारत के लिए इन खेलों में पहला स्वर्ण है और देश के लिए गौरव का क्षण है।

कई वर्षों की मेहनत और दुआओं का फल

भारतीय धाविका ने 11.32 सेकंड में रेस पूरी की और पहले स्थान पर रहीं। उनके नाम 100 मीटर में 11.24 सेकंड का राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी दर्ज है। दूती ने लिखा कि कई वर्षों की मेहनत और दुआओं का फल है, जिससे मैंने एक बार फिर 100 मीटर में वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स में स्वर्ण पदक जीता है।

Add Comment

Click here to post a comment

विज्ञापन

slider 2
slider
slider 2
slider

रायपुर सराफा बाजार

मुद्रा बाजार अपडेट

विज्ञापन