fbpx
राजनीति राजनीती

एक्सप्रेस वे के निर्माण में पार्टियों के बीच मचा रार, भाजपा के प्रदर्शन को कांग्रेस ने कहा नौटंकी

रायपुर : निर्माणाधीन एक्सप्रेस-वे को लेकर हुए भाजपा के प्रदर्शन को कांग्रेस ने नौटंकी करार दिया है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि पूर्व विधायक श्रीचंद सुंदरानी और भाजपा के नेताओं को जन की चिंता नहीं है, बल्कि एक्सप्रेस-वे निर्माण करने वाले ठेकेदार के धन की चिंता है। 293 करोड़ के एक्सप्रेस-वे के निर्माण के लिए भाजपा सरकार के दौरान ठेकेदार से मोटी कमीशन वसूली की गई थी।

कमीशनखोरी भ्रष्टाचार के कारण ही एक्सप्रेस-वे में बने ओवरब्रिज के राड बाहर निकल आये थे जो एक्सप्रेस वे के गुणवत्ताहीन होने की पुष्टि करता है। एक्सप्रेस-वे के निर्माण कार्यों में हुई गुणवत्ता की कमी की जांच अभी चल रही है। जांच पूरी होने के बाद गुणवत्ता की पुष्टि होने के बाद और जनता के लिये सुरक्षित पाये जाते ही एक्सप्रेस-वे को जनता के लिए खोल दिया जाएगा।प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा है कि सुंदरानी को उद्घाटन की इतनी ही चिंता थी तो भाजपा सरकार में निर्माण पूरा करके उद्घाटन कर देना था।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि श्रीचंद सुंदरानी ने विधायक रहते हुये जनता की चिंता किये होते तो उत्तर विधानसभा की जनता उन्हें बाहर का रास्ता नहीं दिखाती। श्रीचंद सुंदरानी के नेतृत्व में पहुँचे भाजपा कार्यकर्ताओं ने एक्सप्रेस-वे को क्षति पहुँचाया है। एक्सप्रेस-वे में हुई तोड़फोड़ के कारण अब राजधानी की जनता को एक्सप्रेस वे के लिये और इंतजार करना पड़ सकता है। भाजपा की सँस्कृति में गुंडागर्दी और तोड़फोड़ करना है। 15 साल के भाजपा शासनकाल में निर्माण कार्यों के नाम से कमीशन खोरी और भ्रष्टाचार चरम सीमा पर थी।

एक्सप्रेस-वे निर्माण पर भी मोटी कमीशनखोरी भाजपा के द्वारा की गई है। अब जब एक्सप्रेस-वे की गुणवत्ता की जांच चल रही है। ऐसे में ठेकेदार को सहयोग करने के लिए भाजपा प्रदर्शन कर रही है। राज्य सरकार एक्सप्रेस वे निर्माण पूर्ण होने के बाद आम जनता को समर्पित करेगी, अपूर्ण या असुरक्षित एक्सप्रेस वे को जनता को सौप कर जनता की जान को जोखिम में नहीं डाला जाएगा।

डॉ. रमन की सरकार ने कई ऐसे प्रोजेक्ट चालू किए जिसका मूल उद्देश्य मात्र कमीशनखोरी और भ्रष्टाचार करना था। एक्सप्रेस-वे भी लपरवाही के कारण अभी तक पूर्ण नहीं हो पाई है, इन सब के लिए भाजपा की सरकार जिम्मेदार है अब जब गुणवत्ता की जांच हो रही है, तब भाजपा अपने पोल खुलने के डर से राजनीतिक हताशा के चलते आंदोलन की नौटंकी कर रहे हैं। राजधानी की जनता भाजपा नेताओं के चाल चरित्र और चेहरे को पहचानती है।

Add Comment

Click here to post a comment

विज्ञापन

रायपुर सराफा बाजार

मुद्रा बाजार अपडेट