fbpx

आवाज़ बिग ब्रेकिंग व्यापार व्यापार चेम्बर

चेम्बर में पान मसाला व्यापारियों के साथ खाद्य एवं औषधि प्रशासन के अधिकारियों की कार्यशाला संपन्न

रायपुर, 11 अक्टूबर। छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्रीज के प्रदेश अध्यक्ष जैन जीतेन्द्र बरलोटा, महामंत्री लालचंद गुलवानी, कोषाध्यक्ष प्रकाश अग्रवाल, प्रवक्ता द्वय ललित जैसिंघ एवं योगेश अग्रवाल, ड्रग एवं फुड सेफ्टी समिति के संयोजक अश्वनी विग ने बताया कि आज बाम्बे मार्केट स्थित चेम्बर भवन में छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्रीज एवं छत्तीसगढ़ पान मसाला व्यापारी संघ द्वारा खाद्य एवं औषधि विभाग के असिस्टेंट फुड कंट्रोलर राजेश शुक्ला जी, फुड इंस्पेक्टर सर्वा जी, भारती जी ने बड़ी संख्या में उपस्थित व्यापारियों को खाद्य पदार्थों की खरीदी-बिक्री बिल से करने एवं खाद्य पदार्थों का रखरखाव उचित एवं स्वच्छता के साथ रखने के स्पष्ट निर्देश दिये साथ ही उन्होंने बताया कि किसी भी प्रकार की नकली खाद्य सामग्री का सैंपल अगर अवमानक पाया जाता है तो नियमों के तहत विभाग कार्यवाही करेगा।

उन्होंने बताया कि जो भी व्यापारी 12 लाख वार्षिक टर्नओवर के अंदर व्यापार करता है तो उसे निर्धारित 100.00 रूपये के शुल्क के साथ आवेदन करना है जो खाद्य एवं औषधि प्रशासन कार्यालय में सीधे जाकर आवश्यक दस्तावेजों के साथ जमा कर सकता है, और जो व्यापारी 12 लाख से अधिक के टर्नओवर के साथ अपना व्यापार करते हैं उन्हें निर्धारित शुल्क 2000.00 रूपये के चालान के साथ अपना आवेदन आनलाइन आवश्यक दस्तावेजों के साथ जमा कर सकते हैं।

व्यापारियों के द्वारा आवेदन करने के 60 दिवस के अंदर विभाग के द्वारा पंजीयन एवं लायसेंस जारी कर दिया जाता है । अगर किसी कारणवश व्यापारी का लायसेंस आवश्यक शर्तोंं के तहत पूर्ण नहीं होता है तो उसे विभाग जानकारी प्रेषित करता है । वैसे 60 दिवस के बाद व्यापारी का पंजीयन एवं लायसेंस विभाग प्रेषित कर देता है । कार्यक्रम को छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष जैन जीतेन्द्र बरलोटा ने व्यापारियों से अपील की कि वे नकली एवं प्रतिबंधित सामान न बेचें ।

थोक किराना व्यापारी संघ के अध्यक्ष पोहूमल एवं छत्तीसगढ़ पान मसाला व्यापारी संघ के अध्यक्ष सुरेश अग्रवाल ने शासन से मांग की है कि व्यापारियों से उठाये जाने वाले सैंपल के पश्चात् जो भी कार्यवाही की जाती है उससे छोटे व्यापारी परेशान हो जाते हैं ।उनकी परेशानियों को देखते हुए सरकार पैकेट बंद खाद्य पदार्थोंं के सैंपल के दौरान प्रशासन द्वारा की जा रही कार्यवाही व पूछताछ सीधे उक्त खाद्य पदार्थों के निर्माताओं से करे। उपस्थित व्यापारियों ने दुकान एवं गोदाम अलग-अलग जगह होने पर लायसेंस प्रक्रिया की जानकारी उपस्थित अधिकारियों से प्राप्त की । अधिकारियों ने बताया कि अगर दुकान और गोदाम एक ही जगह से संचालित होते हैं तो व्यापारी को एक ही लायसेंस की आवश्यकता होगी, अगर दुकान और गोदाम अलग-अलग जगह है तो व्यापारी को दो अलग-अलग लायसेंस प्राप्त करने होंगे। कार्यक्रम का संचालन छत्तीसगढ़ पान मसाला व्यापारी संघ के अध्यक्ष सुरेश अग्रवाल ने किया, धन्यवाद एवं आभार चेम्बर के ड्रग एवं फुड सेफ्टी समिति के संयोजक अश्वनी विग ने किया।

Add Comment

Click here to post a comment

विज्ञापन

slider 2
slider
slider 2
slider

रायपुर सराफा बाजार

मुद्रा बाजार अपडेट

विज्ञापन